हर गेंद पर बने थे 13 रन, एक ओवर में 77, क्रिकेट इतिहास का सबसे रोमांचक मैच, जानें कैसे हुआ था ये खेल

क्रिकेट के इतिहास में जब भी किसी से यह पूछा जाये कि एक ओवर में अधिकतम कितने रन बन सकते हैं तो ज्यादातर लोगों के मन में एक ही जवाब आता है. अगर खिलाड़ी हर गेंद पर छक्का मार दे तो एक ओवर में 36 रन बन सकते हैं. हालांकि कई बार ऐसा भी देखने को मिला है जब खिलाड़ियों ने एक ओवर में अतिरिक्त गेंद का फायदा उठाकर 37 या 40 रन भी बटोरे हैं. पर आपको जानकर हैरानी होगी कि क्रिकेट इतिहास का सबसे महंगा ओवर 37 या 40 रन का नहीं बल्कि 77 रनों का है.

जीत के लिये 12 गेंदों में थी 95 रन की दरकार

जहां पर एक गेंदबाज ने क्रिकेट इतिहास का सबसे महंगा ओवर फेंककर अपनी टीम के जीते हुए मैच को लगभग हरा दिया था. उल्लेखनीय है कि क्रिकेट इतिहास की यह दुर्लभ घटना 3 दशक पहले 1990 में घटी थी जहां पर क्राइस्टचर्च और कैंटरबेरी की टीम के बीच एक फर्स्ट क्लास मैच खेला जा रहा था. शील्ड ट्रॉफी के लीग स्टेज में खेले गये इस मुकाबले में क्राइस्टचर्च की टीम आसानी से जीत हासिल करती नजर आ रही थी, जहां पर कैंटरबेरी की टीम को जीत के लिये आखिरी 2 ओवर में 95 रनों की दरकार थी.

20 फरवरी 1994 को खेले गये इस मैच में न्यूजीलैंड के लिये 4 टेस्ट मैच खेलने वाले बर्ट वेंस मैच का सेकंड लास्ट ओवर फेंकने आये जिन्होंने 22 गेंदों का एक ओवर फेंका और इसमें 17 नो बॉल डाली. इसमें 5 लीगल गेंद जो रही उसमें उन्होंने जमकर रन लुटाये. क्राइस्टचर्च की टीम ने इस मैच के आखिरी दिन 59 ओवर्स में 290 रन बनाये थे और जीत के लिये 291 रनों का लक्ष्य रखा था.

एक ही ओवर में बना डाले थे 77 रन

वेलिंगटन में बॉलर्स ने शानदार प्रदर्शन करते हुए क्राइस्टचर्च की टीम के 8 विकेट महज 108 रन पर चटका दिये थे और अपनी टीम की जीत लगभग पक्की कर दी थी. हालांकि कैंटरबेरी टीम के हालांकि टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज ली जर्मन और रोजर फोर्ड ने विपक्षी टीम के जीत हासिल करने के सपने पर पानी फेर दिया. जब बर्ट वेंस पारी का सेकंड लास्ट ओवर फेंकने आये तो उस वक्त कैटरबेरी का स्कोर 8 विकेट के नुकसान पर 196 था.

वेंस ने नो बॉल से शुरुआत की और 16 गेंदे नो बॉल डाल दी और 17वीं गेंद पर जाकर पहली लीगल गेंद फेंकी. इस दौरान बैटिंग कर रहे ली जर्मन ने 8 छक्के और 5 चौके लगाकर अपने निजी स्कोर को 145 पर पहुंचा दिया, जिसमें लगातार 5 छक्के भी शामिल रहे. आखिरी दो गेंद में बोर्ड ने भी 5 रन बनाकर ओवर को 77 रन का बना दिया.

ऐसा रहा था आखिरी ओवर का रोमांच

वेंस के इस ओवर के चलते कैंटरबेरी की टीम को आखिरी ओवर में जीत के लिये सिर्फ 18 रन की दरकार रह गई, जिसे बचाने के लिये क्राइसटचर्च की टीम ने स्पिनर इवान ग्रे को भेजा. ग्रे की शुरुआत भी अच्छी नहीं रही और पहली 4 गेंदों पर वो लगातार 4 चौके खा बैठे. 5वीं गेंद पर फोर्ड ने एक रन लेकर स्कोर को बराबर किया लेकिन आखिरी गेंद पर बैटर रन नहीं बना सके, जिसके चलते मैच बराबरी पर खत्म हुआ. आपको बता दें कि न्यूजीलैंड के लिये बर्ट वेंस ने घरेलू क्रिकेट के 6 सीजन के करियर में सिर्फ 39 ओवर्स की गेंदबाजी की लेकिन 22 गेंदो का यह ओवर उनके करियर के लिये यादगार बन गया.

About the author

suuny

Leave a Comment