20 साल के पाकिस्तानी पेसर का डेब्यू में कहर , जब 10 रन पर गिरे 8 विकेट, खाता भी नहीं खोल सके 5 बल्लेबाज

12 मार्च की वो यादगार सुबह, जब कुछ ऐसा हुआ, जिसकी कल्पना भी कुछ घंटों पहले तक कोई नहीं कर रहा था. एक ऐसा मुकाबला, जिसके ड्रॉ होने की संभावना लग रही थी, वह अगले एक-डेढ़ घंटे में ही पूरी तरह पलट गया और हर कोई हैरान रह गया. पहली पारी की तरह इस बार भी सकलेन मुश्ताक और मोहम्मद समी का कहर टूट पड़ा. बस इस बार ये कहर और ज्यादा तीव्रता से बरपा. दिग्गज ऑफ स्पिनर मुश्ताक ने दिन की चौथी ही गेंद पर रिचर्डसन को पवेलियन लौटा दिया और कुछ ही देर में विकेटों का पतझड़ लग गया.

कुछ ही ओवर के बाद 121 के स्कोर पर वाइसमैन आउट हो गए. तेज गेंदबाजों की फैक्ट्री पाकिस्तान से निकले एक और नगीने ने असर डालना शुरू कर दिया. 20 साल के इस गेंदबाज के पास तूफानी रफ्तार थी, जिसने हर एक कीवी बल्लेबाज को खौफ से भर दिया. एक तरफ थर्रा देने वाली रफ्तार और रिवर्स स्विंग थी, तो दूसरी ओर दम घोंटू ऑफ स्पिन और दूसरा. समी ने फिर मैथ्यू सिंक्लेयर को आउट किया, जबकि कप्तान स्टीफन फ्लेमिंग और नाथन एस्टल सकलेन के शिकार बने.

10 रन 8 विकेट, 5 डक

फिर आया समी का वो ओवर जिसने न्यूजीलैंड की बैटिंग को बुरी तरह तबाह कर दिया. पारी के 59वें ओवर में समी ने पहली, पांचवीं और छठीं गेंद पर क्रेग मैकमिलन, जेम्स फ्रैंकलिन और डेरिल टफी की छुट्टी कर दी. समी ने इस ओवर में एक भी रन नहीं दिया. बचा हुआ आखिरी विकेट सकलेन ने हासिल कर लिया. न्यूजीलैंड की पूरी पारी पहले सेशन में ही सिर्फ 131 रन पर ढेर हो गई और पाकिस्तान ने 299 रन से मैच जीत लिया. न्यूजीलैंड ने करीब एक घंटे के अंदर सिर्फ 10 रन पर ही 8 विकेट गंवा दिए. पाकिस्तान की हैरतअंगेज गेंदबाजी को और भी घातक इस तथ्य ने बनाया कि न्यूजीलैंड के आखिरी 5 बल्लेबाज अपना खाता तक नहीं खोल सके. समी ने इस पारी में अपने 15 ओवरों में सिर्फ 36 रन दिए और 5 विकेट झटके, वहीं सकलेन ने 25.4 ओवरों में सिर्फ 24 रन ही दिए और 4 विकेट निकाले.

About the author

suuny

Leave a Comment