30 गेंद और 8 विकेट : गोल्ड मेडल से चूकि भारतीय टीम, बनाने थे 36 गेंदो में 43 रन

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में महिला क्रिकेट का फाइनल एजबेस्टन, बर्मिंघम में ही भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेला गया था। इस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 9 रन से हराते हुए गोल्ड मेडल अपने नाम कर लिया।

वहीं भारत को सिल्वर मेडल से संतोष करना पड़ा। फाइनल मैच में किसी भी टीम ने अपनी प्लेइंग इलेवन में कोई बदलाव नहीं किया। फाइनल में ऑस्ट्रेलिया की कप्तान मेग लैनिंग ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया।

हालांकि उनका ये फैसला गलत साबित हुआ क्योंकि रेणुका सिंह ने तीसरे ही ओवर में एलिसा हीली को आउट कर दिया। एलिसा ने 12 गेंद में एक चौके की मदद से 7 रन बनाये।

उनके आउट होने के बाद बल्लेबाजी करने कप्तान लैनिंग उतरी उन्होंने मूनी के साथ दूसरे विकेट के लिए 74 रन की साझेदारी की। इस साझेदारी को राधा यादव ने चतुराई से लैनिंग को रन आउट करके तोड़ा।

लैनिंग ने 26 गेंद में 5 चौको और एक छक्के की मदद से 36 रन की पारी खेली। उनके आउट होने के बाद ताहलिया मैकग्राथ बल्लेबाजी करने के लिए क्रीज पर आयी लेकिन वो ज्यादा देर क्रीज पर नहीं टिक पायी।

उन्हें दीप्ति शर्मा ने 4(7) रन के निजी स्कोर पर आउट कर दिया। ताहलिया के आउट होने के बाद एशले गार्डनर बल्लेबाजी करने के लिए आयी। उन्होंने मूनी के साथ चौथे विकेट के लिए 38 रन जोड़े।

इस साझेदारी को स्नेह राणा ने गार्डनर को आउट करके तोड़ा। गार्डनर ने 15 गेंद में 2 चौके और एक छक्के की मदद से 25 रन बनाये। उनके आउट होने के कुछ देर बाद ग्रेस हैरिस को 2(4) रन के निजी स्कोर पर रेणुका ने आउट कर दिया।

हैरिस के आउट करने के बाद बेथ मूनी को स्नेह राणा ने आउट कर दिया। मूनी ने 41 गेंद में 8 चौको की मदद से 61 रन की पारी खेली। इसके कुछ ही देर बाद राधा यादव ने अलाना किंग को 1(4) रन के निजी स्कोर पर आउट कर दिया।

अंत में ऑस्ट्रेलिया की टीम 20 ओवर में 8 विकेट खोकर 161 रन का स्कोर खड़ा करने में कामयाब रही। भारत की तरफ से सबसे ज्यादा 2-2 विकेट रेणुका सिंह और स्नेह राणा ने लिए। वहीं दीप्ति और राधा को एक-एक विकेट मिला।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। स्मृति मंधाना 7 गेंद में एक चौके की मदद से 6 रन बनाकर डार्सी ब्राउन की गेंद पर बोल्ड हो गयी।

उनके आउट होने के कुछ देर बाद शैफाली वर्मा को एशले गार्डनर ने आउट कर दिया। शैफाली ने 7 गेंद में 2 चौको की मदद से 11 रन बनाये। इसके बाद कप्तान हरमनप्रीत कौर और जेमिमा रोड्रिग्स ने तीसरे विकेट के लिए 96 (71) रन की साझेदारी की।

इस साझेदारी को मेगन शट ने रोड्रिग्स को आउट करके तोड़ा। रोड्रिग्स ने 33 गेंद में 3 चौको की मदद से 33 रन की पारी खेली। उनके आउट होने के बाद पूजा वस्त्राकर बल्लेबाजी करने के लिए आयी।

हालांकि वो ज्यादा देर क्रीज पर नहीं टिक और गार्डनर की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने के चक्कर में एक रन के निजी स्कोर पर आउट हो गयी। गार्डनर ने इसके बाद उसी ओवर में हरमनप्रीत को भी आउट कर दिया।

भारतीय कप्तान ने 43 गेंद में 7 चौको और 2 छक्कों की मदद से 65 रन की पारी खेली। इसके कुछ देर बाद स्नेह राणा 6 गेंद में एक चौके की मदद से 8 रन बनाकर रन आउट हो गयी। इसके बाद राधा यादव भी एक रन बनाकर रन आउट हो गयी।

इसके कुछ ही देरबाद दीप्ति शर्मा को शट ने आउट कर दिया। दीप्ति ने 8 गेंद में 2 चौको की मदद से 13 रन बनाकर आउट हो गयी।

अंत में भारतीय टीम 19.2 ओवरों में 152 पर सिमट गयी। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से सबसे ज्यादा विकेट एशले गार्डनर ने लिए।

उन्होंने 3 ओवर में 16 रन देकर 3 विकेट लिए। उनके अलावा मेगन शट को 2 मिले। वहीं जोनासेन और डार्सी ब्राउन को एक विकेट मिला।

About the author

suuny

Leave a Comment