5 बल्लेबाज बारी- बारी बरसे, 24 छक्के उड़े, टूर्नामेंट का सबसे बड़ा स्कोर बना

दुनिया भर में इस वक्त कई सारी क्रिकेट लीग खेली जा रही है. हर लीग में किसी ना किसी मोड़ पर बड़ा स्कोर बना है. इतना बड़ा जो उस लीग या टूर्नामेंट के इतिहास का सबसे बड़ा साबित हुआ है. 21 अगस्त की शाम भी एक ऐसा ही रनों से भरा मुकाबला, इंग्लैंड में खेले जा रहे 100 गेंदों वाला टूर्नामेंट ‘द हण्ड्रेड’ में खेला गया. मुकाबला था मैनचेस्टर ऑरिजिनल्स और नॉर्दन सुपरचार्जर्स की मेंस टीमों के बीच. और, यही वो मैच भी बना, जिसमें इस टूर्नामेंट का सबसे बड़ा स्कोर बना और जिसे बनाने वाली टीम रही मैनचेस्टर ऑरिजिनल्स

मैनचेस्टर ऑरिजिनल्स ने ये बड़ा स्कोर बनाया कैसे? तो इसके लिए उसके 5 बल्लेबाज बारी-बारी से नॉर्दन सुपरचार्जर्स के गेंदबाजों पर बरसते दिखे. इनमें हर एक बल्लेबाज का स्ट्राइक रेट 200 के पार रहा. नॉर्दन सुपरचार्जर्स ने कुल 6 गेंदबाज आजमाए लेकिन किसी का भी असर मैनचेस्टर ऑरिजिनल्स के उन 5 बल्लेबाजों पर नहीं दिखा.

बड़े स्कोर की बुनियाद पड़ी शानदार

किसी भी बड़े स्कोर की स्क्रिप्ट लिखे जाने की शुरुआत उसकी पड़ी नींव से होती है. और, मैनचेस्टर ऑरिजिनल्स के लिए ये काम विकेटकीपर बल्लेबाज फिल साल्ट और उसके कप्तान लॉरी इवान ने मिलकर बखूबी किया. साल्ट ने 220 की स्ट्राइक रेट से 25 गेंदों पर 55 रन ठोके, जिसमें 5 छक्के, 3 चौके शामिल रहे. वहीं इवान ने 236 .84 की स्ट्राइक रेट से 19 गेंदों पर 45 रन जमाए, 6 चौके और 2 छक्के के साथ.

ओपनिंग जोड़ी के धमाल के बाद मध्य क्रम का तूफान

ओपनिंग जोड़ी ने जब सिर्फ 42 गेंदों पर 102 रन जोड़े तो बाकी बल्लेबाजों का भी जोश जाग गया. इसके बाद IPL में मुंबई इंडियंस के लिए खेलने वाले ट्रिस्टन स्टब्स ने पूरे 200 की स्ट्राइक रेट से 23 गेंदों पर 46 रन जड़े. इन्होंने भी 5 छक्के उड़ाए. पॉल वॉल्टर ने 216.66 की स्ट्राइक रेट से 12 गेंदों पर 26 रन ठोके, 2 चौके और 2 छक्के के साथ. इसके अलावा आंद्रे रसेल ने 100 की स्ट्राइक रेट से 17 गेंदों पर 17 रन बनाए जबकि वेन मैडसन 200 की स्ट्राइक से 3 गेंदों पर 6 रन बनाकर नाबाद रहीं.

24 छक्कों वाले मैच में 23 रन से जीते मैनचेस्टर ऑरिजिनल्स

अपने बल्लेबाजों के दिखाए जोर की बदौलत मैनचेस्टर ऑरिजिनल्स ने 100 गेंदों में 5 विकेट खोकर 208 रन बनाए, जो इस लीग के इतिहास का सबसे बड़ा स्कोर रहा. नॉर्दन सुपरचार्जर्स को 209 रन का लक्ष्य मिला लेकिन वो 185 रन पर ही थम गए और 23 रन से मुकाबला हार गए.

About the author

suuny

Leave a Comment