8 बल्लेबाज नहीं बना पाईं 10 रन भी, 80 रन से पहले ही ढेर हो गई टीम, मिली बुरी हार

इंग्लैंड में इस समय द हंड्रेड टूर्नामेंट खेला जा रहा है. ये टूर्नामेंट पुरुष और महिला वर्ग में एक साथ खेला जा रहा है. जहां पुरुष खिलाड़ी सुर्खियां बटोर रहे हैं तो महिला टीमें भी पीछे नहीं हैं. शनिवार को महिला वर्ग में खेले गए एक मैच में गेंदबाजों ने ऐसा कमाल दिखाया की बल्लेबाजों के पसीने छूट गए और वह रन बनाने के लिए तरसती रह गईं. ये मैच खेला गया था ट्रेंट रॉकेट्स और मैनचेस्टर ऑरिजनल्स के बीच. मैच में रॉकेट्स ने 43 रनों से जीत हासिल की.

रॉकेट्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पांच विकेट खोकर 119 रन बनाए. मैनचेस्टर की टीम महज 87 गेंदों पर ऑल आउट हो गई. पूरी टीम की खिलाड़ी मिलकर कुल 76 रन ही बना सकीं. टीम की महज तीन खिलाड़ी ही दहाई के आंकड़े में पहुंच सकीं जिसमें से सबसे ज्यादा 17 रन बनाए लिजेल ली ने. उनके बाद एमी कैम्पबेल ने 13 रनों की पारी खेली. कॉर्डिले ग्रिफिथ ने 12 रन बनाए.

8 बल्लेबाजों से नहीं बने 10 रन तक

इन तीनों के अलावा टीम की कोई और बल्लेबाज दहाई के आंकड़े में नहीं पहुंच सकीं. टीम की आठ बल्लेबाज 10 रनों तक भी नहीं जा सकीं. एमी स्टारवेट नौ रन बनाकर आउट हो गईं. चार बल्लेबाज तो अपना खाता तक नहीं खोल पाईं. एलेनोर थेलकाल्ड ने सात रन बनाए. ग्रेस पॉट्स चार रन बनाकर नाबाद रहीं.

रॉकेट्स के लिए एलाना किंग ने 20 गेंदों पर 15 रन देकर चार विकेट हासिल किए. इसमें किंग की हैट्रिक भी शामिल रही. किंग इस टूर्नामेंट में हैट्रिक लेने वाली पहली महिला खिलाड़ी हैं. उनके अलावा कैथरीन ब्रायस ने 12 गेंदों पर दो रन देकर दो विकेट अपने नाम किए. सराह ग्लेन ने 20 गेंदों पर 14 रन देकर दो विकेट निकाले. ब्रायोनी स्मिथ ने एक विकेट लिया.

ऐसी रही रॉकेट्स की पारी

रॉकेट्स की बल्लेबाज भी हालांकि कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाईं. अबिगेल फ्रीबॉर्न ने नाबाद 45 रनों की पारी खेली. उन्होंने 38 गेंदों पर सात चौकों की मदद से इतने रन बनाए. किंग ने गेंद से कमाल दिखाने से पहले बल्ले से भी कमाल दिखाया और नौ गेंदों पर नाबाद 19 रन बनाए. अपनी इस पारी में उन्होंने दो छक्के मारे. कैथरीन ब्रंट ने 13 रन बनाए. ब्रायोन स्मिथ ने 16 रनों की पारी खेली.

मैनचेस्टर के लिए डिएंड्रा डॉटिन ने दो विकेट अपने नाम किए. कैट क्रॉस और हनाह जोंस ने के हिस्से एक-एक विकेट आया. सोफी एक्लेस्टन ने एक विकेट अपने नाम किया.

About the author

suuny

Leave a Comment