“अमित शाह के बेटे जय शाह ने फिक्स किया था आईपीएल 2022” बीजेपी नेता ने अपने ही गृहमंत्री के बेटे पर लगाया आरोप

आईपीएल (IPL 2022) समाप्त हो चुका है और इसका खिताब पहली बार खेलने वाली गुजरात टाइटंस (Gujrat Titans) के नाम रहा। लेकिन इस टूर्नामेंट के समापन के बाद भी इससे जुड़ी कोई न कोई खबर बाहर आ रही है। इस बार खबर चौंकाने वाली भी है। बताया जा रहा है कि IPL के सभी मैच और फाइनल फिक्स्ड किया गया था।

बीजेपी के नेता का बड़ा दावा

बीजेपी (BJP) के वरिष्ठ नेता व राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी (Subramanian Swamy) ने IPL 2022 को लेकर बड़ा दावा किया है। बीजेपी सांसद के मुताबिक IPL का फाइनल मैच फिक्स था। उन्होंने मैच फिक्सिंग के लिए सीधे तौर पर गृहमंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) के बेटे जय शाह (Jay Shah) पर निशाना साधा है। 

स्वामी का मानना है कि मैच फिक्सिंग को लेकर जांच की जरूरत है। बीजेपी सांसद ने एक ट्वीट में लिखा है कि, “

खुफिया एजेंसियों में व्यापक भावना है कि टाटा आईपीएल क्रिकेट के परिणामों में धांधली की गई थी। इसके लिए जांच की आवश्यकता है और जांच के लिए जनहित याचिका दायर करने की जरूरत है। सरकार जांच नहीं करेगी क्योंकि अमित शाह का बेटा बीसीसीआई का तानाशाह है।”

लोगो ने भी उठाए खूब सवाल

दरअसल, आईपीएल 2022 का फाइनल मुकाबला गुजरात और राजस्थान रॉयल्स के बीच खेला गया। टॉस जीतकर राजस्थान रॉयल्स के कप्तान संजू सैमसन ने पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया। जबकि क्रिकेट एक्सपर्ट्स और कई फैंस का भी मानना था कि इस मैदान पर पहले गेंदबाजी करने वाली टीम के जीतने की संभावना सर्वाधिक है।

ऊपर से पिच भी पहले गेंदबाजी करने के लिए अच्छी थी और गुजरात का रिकॉर्ड सीजन में चेज करने में अच्छा था। इसके बावजूद संजू सैमसन ने टॉस जीतते ही पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया। मैच खत्म होते ही सोशल मीडिया यूजर्स फिक्सिंग की आशंका जताने लगे।

लोगो ने यह बात भी उठाई कि गुजरात की टीम, जिसका कप्तान (हार्दिक पांड्या) भी गुजराती हो वह गुजरात के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में आयोजित फाइनल मैच का हिस्सा बने और जीत दर्ज करे। बीसीसीआई के सेक्रेटरी जय शाह जो केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के बेटे हैं वह भी गुजराती हैं, इसलिए उनकी भूमिका भी संदिग्ध मानी जा रही है।

About the author

suuny

Leave a Comment