पहली बार भारत का एकमात्र खिलाड़ी, जो पूरे करियर में रन आउट ही नहीं हुआ, बनाए 8000 से ज्यादा रन और भारत को जिताया वर्ल्ड कप

क्रिकेट के खेल में मैदान पर रिकॉर्ड बनते और टूटते रहते हैं. बल्लेबाज मैदान पर आते ही बड़े शॉट खेलने की कोशिश में लग जाते हैं और ज्यादा से ज्यादा रन बनाने की कोशिश करते हैं. बल्लेबाज दौड़कर रन लेना भी पसंद करते हैं. लेकिन कई बार दौड़कर रन चुराने के चक्कर में वह रन आउट हो जाते हैं. लेकिन हम आपको भारतीय टीम के एक ऐसे क्रिकेटर के बारे में बता रहे हैं, जो पूरे करियर में रन आउट ही नहीं हुआ. जबकि उसने वनडे में 3000 से ज्यादा और टेस्ट में 5000 से ज्यादा रन बनाए और भारत को वर्ल्ड कप भी जिताया.

हम बात कर रहे हैं पूर्व ऑलराउंडर खिलाड़ी कपिल देव की, जिन्होंने 1983 में भारतीय टीम को वर्ल्ड कप जिताया था. वर्ल्ड कप में कपिल देव ने 175 रन की बेहतरीन पारी भी खेली थी. उनके आंकड़े बहुत ही जबरदस्त रहे हैं. कपिल देव ने भारत के लिए कुल 131 टेस्ट मैच खेले, जिसमें 5248 रन बनाए और 434 विकेट लिए. जबकि वनडे में उन्होंने 3000 से ज्यादा रन बनाए और 253 विकेट हासिल किए.

पूरे करियर में कपिल देव को कोई भी गेंदबाज रनआउट नहीं कर सका. कपिल देव के अलावा इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर पीटर भी अपने पूरे करियर में रन आउट नहीं हुए थे. पीटर ने इंग्लैंड के लिए 66 टेस्ट मैचों में 4537 रन बनाए. उनका सर्वोच्चय स्कोर 235 था.

About the author

suuny

Leave a Comment