पहले मैच में मैदान पर दिखा धोनी से भी खतरनाक विकेटकीपर, चीते जैसी फुर्ती दिखाकर अकेले दम पर भारत को जिताया

भारत और वेस्टइंडीज के बीच हाल ही में हुए पहले वनडे मुकाबले में टीम इंडिया ने 3 रनों से शानदार जीत दर्ज की और तीन वनडे मैचों की सीरीज में 1-0 से बढ़त बना ली. इस मुकाबले में टीम इंडिया पहले बल्लेबाजी करने उतरी थी और उसने निर्धारित ओवरों में 7 विकेट के नुकसान पर 308 रन बनाए थे. हालांकि वेस्टइंडीज की टीम 309 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए 6 विकेट के नुकसान पर 305 रन ही बना पाई. आखिरी ओवर में वेस्टइंडीज को जीत के लिए 15 रनों की जरूरत थी. लेकिन भारतीय विकेटकीपर की वजह से वेस्टइंडीज यह मुकाबला जीतने में सफल नहीं हो पाई.

संजू सैमसन की विकेटकीपिंग से जीता भारत

वेस्टइंडीज की टीम को आखिरी दो गेंदों में सिर्फ 8 रनों की जरूरत थी. ऐसे में मोहम्मद सिराज ने आखिरी ओवर की पांचवी गेंद यॉर्कर डालने की कोशिश की. लेकिन वह लेग स्टंप के काफी बाहर चली गई. इस वजह से वह गेंद वाइड हो गई. विकेटकीपर संजू सैमसन को विकेट के पीछे गेंद पकड़ने में काफी मशक्कत करनी पड़ी. उन्होंने शानदार डाइव लगाकर बोल को रोक लिया. अगर वह ऐसा नहीं कर पाते तो वेस्टइंडीज को फ्री में 5 रन मिल जाते और मैच वेस्टइंडीज के पाले में चला जाता.

इस पूरी घटना के दौरान विकेटकीपर संजू सैमसन ने चीते जैसी फुर्ती दिखाई और गेंद को रोक लिया. सोशल मीडिया पर अब वह लोगों की नजरों में हीरो बन चुके हैं. कुछ लोग तो अब उनकी तुलना महेंद्र सिंह धोनी से शुरू कर चुके हैं. अगर आने वाले मैचों में भी सैमसन विकेटकीपिंग से अच्छा प्रदर्शन करते हैं तो ऋषभ पंत का स्थान खतरे में पड़ सकता है.

संजू सैमसन ने पहले वनडे मुकाबले में बल्लेबाजी से कुछ खास कमाल नहीं किया. वह 18 गेंदों में 12 रन बनाकर आउट हो गए. लेकिन उन्होंने वाइड गेंद पर 5 रन बचाकर करोड़ों भारतीय प्रशंसकों का दिल जीत लिया.

 

About the author

suuny

Leave a Comment