IPL 2022 : ये रहे 5 बड़े विवाद, जिन्हें भूल पाना क्रिकेट फैंस के लिए है मुश्किल

1. नो बाॅल विवाद

आईपीएल 2022 के 34वें मैच में दिल्ली कैपिटल्स और राजस्थान रॉयल्स के बीच हुई भिड़ंत ने सबसे ज्यादा सुर्खियां बटोरीं। इस मैच में पंत ने अपने बल्लेबाजों को मैदान छोड़ने का इशारा किया। हुआ ऐसा कि अंतिम ओवर में 36 रन चाहिए थे। बल्लेबाजी कर रहे रोवमैन पॉवेल ने पहली तीन गेंदों पर ओबेद मैककॉय को तीन छक्के मारे। तीसरी गेंद कमर के ऊपर से जा रही थी और पॉवेल ने पूछा कि क्या यह नो-बॉल है। जब ऑन-फील्ड अंपायर ने दिल्ली के पक्ष में फैसला नहीं सुनाया, तो पंत ने अपने खिलाड़ियों को मैदान से बाहर जाने के लिए कहा। अंत में, दिल्ली मैच हार गई और पंत को उनके व्यवहार के लिए फटकार भी लगाई गई। दिल्ली ने फेयरप्ले टेबल पर भी महत्वपूर्ण अंक गंवाए। इस मैच में अंपायरिंग पर भी सवाल उठे थे।

2. कोहली का गुस्सा

विराट कोहली का खराब प्रदर्शन आईपीएल 2022 में दिखा। साथ ही उनकी किस्मत भी उनका साथ नहीं देती दिखी। कोहली इस सीजन में तीन बार शून्य पर आउट हुए। साथ ही उन्हें खराब अंपायरिंग के कारण भी वापस लाैटना पड़ा। मुंबई इंडियंस के खिलाफ एक मैच में उन्हें विवादास्पद तरीके से आउट दिया गया। वह 36 गेंदों में 48 रन बनाकर बल्लेबाजी कर रहे थे, तभी उन्हें मैदानी अंपायर वीरेंद्र शर्मा ने एलबीडब्ल्यू आउट दिया। कोहली तीसरे अंपायर के पास गए, लेकिन कोई सबूत नहीं मिला क्योंकि गेंद आैर बल्ला एक ही समय पैड पर टकराते दिख रहे थे। ऐसे में थर्ड अंपायर ने कोई सबूत ना मिलने पर मैदानी अंपायर के फैसले को बरकरार रख, जिस कारण कोहली को निराश होकर लाैटना पड़ा। गुस्से में दिखे कोहली की भावनाएं बड़े पर्दे पर भी दिखाई दे रही थीं।

3. हर्षल-पराग में विवाद

आईपीएल 2022 के 39वें मैच के दौरान दो भारतीय खिलाड़ी रियान पराग और हर्षल पटेल आपस में ही भिड़ गए। दोनों की बीच तीखी बहस उस समय हो गई जब पराग ने पटेल के आखिरी ओवर में 18 रन बनाए । पराग ने 31 गेंद में 56 रन की पारी खेली थी। उन्होंने आखिरी ओवर में पटेल को एक चौका और दो छक्के जड़े। पराग ने डीप मिडविकेट बाउंड्री पर पटेल को चौका जड़ा, जिसके बाद दोनों खिलाड़ियों के बीच बहस हो गई। जब यह मैच खत्म हुआ तो दोनों ने एक-दूसरे से हाथ भी नहीं मिलाया।

4. जडेजा का कप्तानी से हट जाना

जब सीजन शुरू हुआ था तो रविंद्र जडेज को कप्तान बनाया गया था। लेकिन टीम को शुरूआती 8 मैचो में 6 में हार का सामना करना पड़ा। इस बीच जडेजा ना बल्ले से रन बना सके ना ही विकेट ले सके। यहां तक कि फील्डिंग भी खराब दिखी। कप्तानी का दवाब ना झेल पाने के कारण फिर जडेजा ने अचानक कप्तानी छोड़ते हुए फिर से महेंद्र सिंह धोनी को जिम्मेदारी साैंप दी। इसके जडेजा बाहर भी हो गए। बताया गया कि वह चोटिल हुए जिस कारण फ्रेंचाइजी ने उन्हें आराम करने के लिए कहा। इसके बाद खबरें उठीं कि जडेजा की फ्रेंचाइजी के साथ बिगड़ गई। हालांकि बाद में फ्रेंचाइजी को सामने आकर सफाई देने पर मजबूर होना पड़ा, लेकिन माना यही जा रहा था कि जडेजा से फ्रेंचाइजी बिल्कुल निराश दिखी जिस कारण उन्हें कप्तानी भी छोड़नी पड़ी।

 

5 .हार्दिक का मोहम्मद शमी पर चिल्लाना

इस सीजन में जहां हार्दिक ने बताैर कप्तान व अच्छी बल्लेबाजी के लिए सुर्खियां बटोरीं तो साथ ही उन्हें एक हरकत के चलते फैंस के गुस्से का शिकार भी होना पड़ा। हुआ ऐसा कि 15 अप्रैल को गुजरात टाइटंस का मुक़ाबला सनराइजर्स हैदराबाद से हुआ था। जब मैच हाथ से जा रहा था तो हार्दिक टीम के सबसे वरिष्ठ खिलाड़ी मोहम्मद शमी पर चिल्लाते दिखे। पारी के 13वें ओवर के दौरान हार्दिक की गेंद पर मोहम्मद शमी से राहुल त्रिपाठी का एक कैच छोड़ दिया। यह पांड्या से सहन नहीं हुआ और वह भड़क गए। इस प्रकरण के बाद फैंस और पूर्व खिलाडियों ने हार्दिक की आलोचना की।

About the author

suuny

Leave a Comment