एक बार फिर चढ़ा बुढ़ापे में जवानी का जोश, छक्कों की कर दी बरसात, मनीष पांडे भी ठोके 21 गेंदों में 57 रन

दुनिया में इस समय बहुत सारे ऐसे खिलाड़ी मौजूद है, जिनकी उम्र अधिक हो चुकी है, लेकिन फिर भी वो क्रिकेट खेल रहे हैं। इस वजह से जब भी वो अच्छी प्रदर्शन करते हैं तो फैंस के बीच चर्चा में हमेशा बने रहते हैं। आज हम एक ऐसे ही बुजुर्ग क्रिकेटर के बारे में बात करने जा रहे हैं जो इन दिनों अपनी बल्लेबाजी से धमाल मचा रहे हैं।

भारत में इन दिनों महाराजा टी-20 लीग खेला जा रहा है जो कर्नाटक में हो रहा है। इस लीग में बहुत सारे युवा क्रिकेटर के साथ-साथ उम्रदराज खिलाड़ी भी खेल रहे हैं। इस टी-20 लीग का 27 मुकाबला गुलबर्गा और मैसूर के बीच खेला गया, जिसमे गुलबर्गा टीम के एक उम्रदराज क्रिकेटर ने अपनी बल्लेबाजी से सबको अचंभित किया है।

बुढ़ापे में चढ़ा जवानी का जोश

गुलबर्गा और मैसूर के बीच खेले गए मैच में गुलबर्गा टीम के एक बुजुर्ग क्रिकेटर ने अपनी बल्लेबाजी से सबको हैरान किया है। हम जेस्वाथ अचार्य के बारे में बात कर रहे हैं जो इन दिनों महाराजा केएससीए टी-20 लीग में गुलबर्गा के लिए खेल रहे हैं। पिछले कुछ मैचों से जेस्वाथ ने छोटी-छोटी कई तूफानी पारियां खेली है।

जेस्वाथ अचार्य मैसूर के खिलाफ खेले गए मैच में तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए 21 गेंदों की मदद से 34 रनों की बेहतरीन पारी खेली है। लेकिन उस दौरान उन्होंने एक चौका और चार गगनचुंबी छक्का लगाया है। जेस्वाथ ने ये सभी चारों छक्के आठवें और नोवें ओवर की अंतिम दोनों गेंदों पर लगाया है।

गुलबर्गा के लिए खेल रहे जेस्वाथ अचार्य की आयु 52 साल है। इसके बारे में क्रिकेट से जुड़ी खबर प्रकाशित करने वाली प्रचलित वेबसाइट Cricketnmore पर दिया गया है, जिसका स्क्रीनशॉट हमने उपर दिया है। Cricketnmore के अनुसार जेस्वाथ अचार्य का जन्म 1 जनवरी 1970 को हुआ था, इस हिसाब से उनकी आयु अब 52 साल हो चुकी है। जेस्वाथ अचार्य की बल्लेबाजी को देखकर हर फैंस हैरान है, क्योंकि इतनी उम्र होने के बावजूद भी बड़े-बड़े शॉट आसानी से खेलता है।

मनीष पांडे ने खेली तूफानी पारी

उस मुकाबले में गुलबर्गा टीम के कप्तान मनीष पांडे भी 27 गेंदों का सामना करते हुए 57 रनों की नॉट आउट पारी खेली है। उस दौरान पांडे के बल्ले से तीन चौके और चार गगनचुंबी छक्के निकले हैं। मैं आपको बता दूं कि मनीष पांडे ने चौके और छक्के की मदद से सिर्फ 7 गेंदों में 36 रन बनाए हैं। उसके बाद 7 डबल और 7 सिंगल रन दौड़कर पूरा किया है। इस तरह मनीष पांडे ने 27 में से सिर्फ 21 गेंदों पर रन बनाए हैं।

About the author

suuny

Leave a Comment