दिनेश कार्तिक के कारण खतरे में पड़ गई थी रोहित शर्मा की जगह, तब एमएस धोनी के ‘मास्टर स्ट्रोक’ ने फूंक दी ‘हिटमैन’ के करियर में जान

टी20 विश्व कप (T20 World Cup) से 3 महीने पहले भारत ने वेस्टइंडीज में सलामी बल्लेबाज के रूप में सूर्यकुमार यादव को लेकर एक प्रयोग किया। ऐसा लगता है कि इस रणनीति ने काम किया है, क्योंकि दाएं हाथ का यह बल्लेबाज 5 मैच की टी20 सीरीज में अब तक 24, 11 और 76 रन बना चुके हैं। टीम इंडिया के हालिया प्रयोग को देखते हुए ऐसे कयास लगने शुरू हो गए हैं कि क्या ऑस्ट्रेलिया में एक नई सलामी जोड़ी होगी।

टी20 वर्ल्ड कप जैसे बड़े टूर्नामेंट से पहले लगातार शीर्ष क्रम पर अदला-बदली टीम इंडिया को नुकसान पहुंचा सकती है। हालांकि, पूर्व कप्तान एमएस धोनी ने लगभग एक दशक पहले रोहित शर्मा के साथ भी करीब ऐसा ही प्रयोग किया था। जिसे विश्व क्रिकेट में भारत के सबसे बड़े जुए में से एक कहा जाता है।

वर्तमान में, भारतीय टीम के ऑल-फॉर्मेट कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की गिनती समकालीन क्रिकेट में सबसे कुशल बल्लेबाजों में से एक के रूप में की जाती है। रोहित शर्मा 50 ओवर फॉर्मेट में 3 दोहरे शतक लगाने वाले दुनिया के इकलौते बल्लेबाज हैं। हालांकि, एक समय ऐसा भी था, जब दिनेश कार्तिक के कारण रोहित शर्मा की जगह खतरे में पड़ गई थी।

दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) ने 2013 चैंपियंस ट्रॉफी से पहले अभ्यास मैच में ऑस्ट्रेलिया के तेज आक्रमण के खिलाफ नाबाद 146 रन ठोककर प्लेइंग इलेवन में जगह बनाने का दावा ठोका था। उस समय तक रोहित शर्मा ओपनिंग नहीं करते थे और 4-5 नंबर पर बल्लेबाजी के लिए आते थे। अभ्यास मैच में कार्तिक ने इसी नंबर पर खेलते हुए दो शतक ठोके।

तब लोगों ने कयास लगाए थे कि रोहित की जगह दिनेश कार्तिक प्लेइंग इलेवन में होंगे। हालांकि, तभी एमएस धोनी ने मास्टरस्ट्रोक खेला। उन्होंने शिखर धवन के साथ रोहित शर्मा को ओपनिंग के लिए भेजा। धोनी के उस फैसले को तब बहुत बड़ा जुआ करार दिया गया था। हालांकि, धोनी के इस फैसले ने हिटमैन के करियर में जान फूंक दी।

एमएस धोनी के इस फैसले ने न सिर्फ रोहित बल्कि भारतीय क्रिकेट का भी बहुत भला किया। भारत क्रिकेट टीम के पूर्व फील्डिंग कोच आर श्रीधर ने खुलासा किया है कि कैसे पूर्व कप्तान रोहित से ओपनिंग कराने के लिए उत्सुक थे। रामकृष्णन श्रीधर (Ramakrishnan Sridhar) ने क्रिकेट डॉट कॉम से कहा, ‘साल 2013 चैंपियंस ट्रॉफी में धोनी द्वारा रोहित को ओपनिंग के लिए भेजने का निर्णय लिया गया था।’

उन्होंने कहा, ‘दिनेश कार्तिक अभ्यास मैचों में बहुत अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे, लेकिन रोहित को खेलना था… इसलिए टीम प्रबंधन (ज्यादातर फैसले कप्तान धोनी के ही रहते थे) ने रोहित को शीर्ष क्रम पर उतारने का फैसला किया। यह एक शानदार कदम था।’

श्रीधर ने वर्तमान 20 ओवरों के सेट-अप में सूर्यकुमार यादव के शामिल होने की भी सराहना की। उन्होंने बताया कि जब विराट कोहली प्लेइंग इलेवन से अनुपस्थित होते हैं तो श्रेयस अय्यर नंबर 3 स्थान पर कैसे फिट होते हैं।

श्रीधर ने कहा, ‘एक कदम जो हमने टी20 में लिया था, ‘वह सूर्या का इंग्लैंड के खिलाफ कुछ साल पहले टीम में लाने का था। उसने दिखाया है कि वह कितना अच्छा है। श्रेयस अय्यर नंबर 3 पर (जहां विराट कोहली अभी नहीं खेल रहे हैं) आया है।’

About the author

suuny

Leave a Comment