करियर का पहला शतक लगाने के बाद बदले शुभमन गिल के तेवर, इसे बताया टीम इंडिया का सबसे बेस्ट कप्तान

भारतीय टीम ने सोमवार को जिंबाब्वे के खिलाफ वनडे सीरीज का तीसरा और आखिरी मुकाबला खेला, जिसे 13 रनों से जीत लिया. साथ ही सीरीज में 3-0 से जिंबाब्वे का क्लीन स्वीप कर दिया. इस मुकाबले में भारत की तरफ से शुभमन गिल ने 130 रन की बेहतरीन पारी खेली. यह शुभमन गिल के करियर का पहला शतक था और करियर का पहला शतक लगाने के बाद बल्लेबाज के तेवर थोड़े बदले हुए नजर आए.

शुभमन गिल को उनके शानदार प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच और प्लेयर ऑफ द सीरीज भी चुना गया. बता दें कि शुभमन गिल ने भले ही केएल राहुल की कप्तानी में पहला शतक लगाया हो. लेकिन उनकी नजरों में महेंद्र सिंह धोनी सबसे बेहतरीन कप्तान हैं. शुभमन गिल हमेशा से ही धोनी की तारीफ करते आए हैं. गिल अक्सर यह कहते हैं कि उन्हें धोनी से बहुत कुछ सीखने को मिलता है.

इस खिलाड़ी को सबसे बेस्ट कप्तान मानते हैं गिल

शुभमन गिल ने धोनी की तारीफ में एक न्यूज़ वेबसाइट से बातचीत के दौरान कहा- माही भाई से मेरी बहुत ज्यादा बातचीत नहीं हुई है. लेकिन मैंने उनसे एक बात सीखी है, वो यह है कि आप चाहे कैसी भी परिस्थिति हो जीत सकते हैं, बस आपको खुद पर भरोसा रखना होगा. अभ्यास करते रहें, कड़ी मेहनत करें, ऐसा करने पर आपको सफलता जरूर मिलेगी.

शुभमन गिल का जिंबाब्वे के खिलाफ ऐसा रहा प्रदर्शन

शुभमन गिल ने जिंबाब्वे के खिलाफ तीनों मैचों में बल्लेबाजी की. इस दौरान उन्होंने कुल मिलाकर 245 रन बनाए. पहले मैच में गिल ने 82 रन की नाबाद पारी खेली थी. इसके बाद जब वह दूसरे मुकाबले में उतरे तो 33 रन बना सके. हालांकि आखिरी मैच में तो उन्होंने 130 रन की तूफानी पारी खेलकर गदर मचा दिया.

 

About the author

suuny

Leave a Comment