35 साल के दिग्गज क्रिकेटर ने खेला आखिरी मैच, 55 गेंदों की पारी के साथ थमा करियर, ठोके थे 11000 से ज्यादा रन

क्रिकेट इतिहास के पन्नों में 30 जून की तारीख भारत के एक सुपरस्टार खिलाड़ी के आखिरी मैच के तौर पर दर्ज है. 5 साल पहले यानी साल 2017 में इसी तारीख को उसने अपना आखिरी इंटरनेशनल मैच खेला था. भारत की टीम वेस्ट इंडीज के दौरे पर थी. वनडे सीरीज का वो तीसरा मैच था, जो कि भारतीय टीम के नजरिए से अहम मैच भी था. उस मुकाबले में उस धाकड़ बल्लेबाज ने 55 गेंदों की पारी खेलकर टीम इंडिया की जीत में अपना योगदान दिया. लेकिन, वही इनिंग इसके इंटरनेशनल करियर की आखिरी इनिंग बन गई. हम बात कर रहे हैं भारत को वर्ल्ड कप जिताने वाले चैंपियन खिलाड़ी युवराज सिंह (Yuvraj Singh) की, जिन्होंने 30 जून 2017 को अपना आखिरी वनडे या यूं कहें कि आखिरी इंटरनेशनल मैच खेला था.

विराट कोहली कप्तान थे, भारत के वेस्ट इंडीज दौरे पर जब युवराज सिंह ने अपना आखिरी मैच खेला. 5 वनडे की उस सीरीज को भारत ने 3-1 से जीता था. सीरीज का पहला वनडे रद्द हो चुका था और दूसरा भारत ने जीत लिया था. ऐसे में सीरीज में अपनी बढ़त को मजबूत करने के लिए भारत के लिए वो तीसरा वनडे जरूरी था. उधर वेस्ट इंडीज के लिए भी हारने का सवाल नहीं था.

युवराज ने 55 गेंदों पर बनाए 39 रन

अपने आखिरी और टीम इंडिया के लिए इतने अहम मैच में युवराज सिंह ने 55 गेंदों का सामना किया और 39 रन बनाए. इस दौरान उनके बल्ले से 4 चौके निकले. युवराज के अलावा इस मैच में धोनी ने 78 रन की नाबाद पारी खेली थी. वहीं केदार जाधव ने भी तेज-तर्रार नाबाद पारी खेली थी. नतीजा ये हुआ कि भारत ने पहले खेलते हुए 50 ओवर में 4 विकेट पर 251 रन बनाए.

93 रन से जीता था भारत

वेस्ट इंडीज के सामने जीत के लिए 252 रन का लक्ष्य था, लेकिन कैरेबियाई टीम अश्विन और कुलदीप यादव की फिरकी में उलझ कर रह गई. दोनों ने मिलकर 6 विकेट लिए और वेस्ट इंडीज को 158 रन पर ही रोकने में कामयाब रहे. वेस्ट इंडीज की टीम पूरे 50 ओवर भी नहीं खेल सकी और सिर्फ 38.1 ओनर में ही ऑलआउट हो गई. भारत ने तीसरा वनडे 93 रन के बड़़े अंतर से जीता और सीरीज में 2-0 से बढ़त बनाई.

युवराज सिंह का करियर

युवराज सिंह का इंटरनेशनल करियर 402 मैचों का रहा है, जिसमें उन्होंने 11000 से ज्यादा रन बनाए हैं. इस दौरान उन्होंने 17 शतक और 71 अर्धशतक जड़े हैं. 402 इंटरनेशनल मैचों में युवराज ने 304 मैच अकेले वनडे फॉर्मेट में खेले हैं, जिसमें उनके 8000 से ज्यादा रन हैं.

 

About the author

suuny

Leave a Comment