दोस्ती की मिशाल! जब अपने जिगरी दोस्त की जान बचाने के लिए महेंद्र सिंह धोनी ने भेजा था हेलीकाप्टर, और दिल्ली एम्स में कराया था भर्ती

जब भी दुनिया के सबसे बेहतरीन क्रिकेट खिलाडियों के बारे में बात की जाती है, तो उसमे महेंद्र सिंह धोनी का नाम शीर्ष पर आता है। क्योकि इन्होने अपने क्रिकेट कैरियर में ना केवल अपने बल्ले से बल्कि अपनी चतुराई भरी कप्तानी से भी भारतीय क्रिकेट टीम को कई बड़े मैचों में जीत दिलाई है। और धोनी ही वो एक मात्र खिलाड़ी है, जिन्होंने ICC द्वारा आयोजित तीनो बड़े इवेंट्स जीते है। चाहे वो टी 20 वर्ल्डकप हो, या वनडे वर्ल्डकप या फिर ICC चैंपियनशिप हो।

इसी वजह से आज कई युवा खिलाड़ी इन्हें अपना आदर्श मानते है। धोनी के बारे में कहा जाता है की वो आज जितने बड़े  क्रिकेटर है उतने ही वो एक अच्छे इंसान भी है। वो आम लोगो की तरह ही अपना जीवन व्यतीत करते है। जिससे जुडी कई कहानियाँ हम सब जानते है। इसी के चलते आज हम आपको धोनी की दरयादिली और उनकी दोस्ती की ऐसी कहानी आपको बताने वाले है, जिसके बारे में सुनकर आप भीं धोनी पर पहले से ज्यादा गर्व करने लगेंगे।

दरअसल, हम सब जनते है की धोनी का सबसे फैवरेट शॉट हेलीकॉप्टर शॉट है। जिसे लगाकर उन्हें भारत को वर्ल्डकप में चैंपियन बनाया था। लेकिन ये बात बहुत ही कम लोग जानते है की धोनी ने ये शॉट अपने बचपन को दोस्त संतोष लाल से सिखा था। और वो इसे थप्पड़ शॉट बोलते थे। इसका बात का खुलासा धोनी की बनी बायो पिक MS धोनी- द अनटोल्ड स्टोरी में किया गया है।

लेकिन अफ़सोस की बात धोनी का ये दोस्त संतोष लाल आज इस दुनिया में नहीं है। साल 2013 में संतोष लाल की एक भयानक बिमारी से मौत हो गई थी। बताया गया की जब संतोष लाल साल 2013 में बीमार हुए थे तब धोनी एक विदेशी दौरे पर थे। ऐसे में जब उन्हें खबर लगी की संतोष लाल गंभीर बिमारी से ग्रस्त ही और नाजुक हालत में है तब धोनी ने अपने परिवार के सदस्यों से संतोष की मदद करने के लिए कहा था।

वही, धोनी ने भी दिल्ली एम्स में उन्हें भर्ती करवाने का पूरा इंतजाम किया था। और अपने दोस्त को बचाने के लिए हर संभव प्रयास करने की कोशिश की। लेकिन खुदा को शायद कुछ और ही मंजूर था। जिससे संतोष लाल की जान नहीं बच पाई थी। बताया गया की संतोष लाल को पेनक्रियाज में इन्फेक्शन हुआ था। जोकि काफी बढ़ चूका था, और कण्ट्रोल से बहार हो चूका था।

About the author

suuny

Leave a Comment