एक पारी में 52 चौके और 5 छक्के लगाने का कारनामा आज तक नहीं टूटा है इस बल्लेबाज का ये बड़ा विश्व रिकॉर्ड, किया था

जब क्रिकेट की शुरुआत हुई थी तो टेस्ट मैच में दोनों टीमों को दो-दो पारियां खेलनी होती थीं. उस समय कोई समय सीमा निर्धारित नहीं थी. लेकिन अब टेस्ट फॉर्मेट में बहुत बदलाव आ गया है. अब टेस्ट मैच 5 दिन तक खेला जाता है. समय के साथ टेस्ट क्रिकेट में खिलाड़ियों के खेलने का तरीका बदल गया है. अब तो बल्लेबाज टेस्ट में भी तेज गति से रन बनाने लगे हैं. आज हम आपको उस बल्लेबाज के बारे में बता रहे हैं, जिसने टेस्ट की एक पारी में 52 चौके और 5 छक्के लगाए थे और इस खिलाड़ी के नाम टेस्ट की एक पारी में सबसे ज्यादा बाउंड्री लगाने का रिकॉर्ड दर्ज है, जो सालों से बरकरार है.

1965 में ये कमाल इंग्लिश क्रिकेटर जॉन एडरिच ने किया था. लीड्स में इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच में टेस्ट सीरीज के तीसरे मुकाबले में इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी की. लेकिन इंग्लैंड की टीम का पहला विकेट 13 रन पर गिर गया. जिसके बाद इंग्लिश ओपनर बल्लेबाज जॉन एडरिच ने जमकर कीवी गेंदबाजों की क्लास ली. पहला विकेट गिरने के बाद उन्होंने ताबड़तोड़ अंदाज में बैटिंग की.

जॉन एडरिच ने 532 मिनट तक बल्लेबाजी की और इस दौरान 450 गेंदें खेली. 450 गेंद खेलते हुए उन्होंने नाबाद 310 रनों की पारी खेली. अपनी इस पारी में जॉन एडरिच ने 52 चौके और 5 छक्के लगाए, जो कि एक विश्व रिकॉर्ड है. जॉन एडरिच ने अपनी पारी के 77 प्रतिशत रन बाउंड्री के जरिए बनाए. बता दें कि यह किसी भी टेस्ट पारी में सबसे ज्यादा बाउंड्री लगाने का विश्व रिकॉर्ड है, जो कि आज तक नहीं टूटा है.

About the author

suuny

Leave a Comment