पाकिस्तानी दिग्गज ने विराट कोहली को बताया मानसिक तौर पर अनफिट; BCCI को दी चेतावनी, कहा- पीसीबी जैसी गलती कर रहा भारतीय बोर्ड

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने शनिवार 30 जुलाई को जिम्बाब्वे के खिलाफ 18 अगस्त से शुरू हो रही तीन मैचों की एकदिवसीय शृंखला के लिए टीम की घोषणा की। जिम्बाब्वे दौरे के लिए शिखर धवन को कप्तानी सौंपी गई है। भारतीय प्रबंधन ने फिर प्रमुख वरिष्ठ खिलाड़ियों विराट कोहली, रोहित शर्मा ऋषभ पंत, हार्दिक पंड्या और जसप्रीत बुमराह को आराम देने का फैसला किया। ये सभी 5 खिलाड़ी वेस्टइंडीज के खिलाफ एकदिवसीय सीरीज में भी नहीं खेले थे। कोहली और बुमराह तो मौजूदा टी20 इंटरनेशनल सीरीज का हिस्सा भी नहीं हैं।

क्रिकेट फैंस भी बीसीसीआई के सीनियर खिलाड़ियों को एक सीरीज के बाद आराम देने के फैसले पर सवाल उठा रहे हैं। हालांकि, ऐसा इस साल पहली बार नहीं हुआ है। भारतीय टीम प्रबंधन ने इस साल की शुरुआत से अब तक 7 खिलाड़ियों को टीम की कमान सौंपी है।

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान राशिद लतीफ टीम इंडिया में लगातार कप्तान बदले जाने के प्रयोग को गलत मानते हैं। उनका कहना है कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड वही गलती दोहरा रहा है जो 90 के दशक में पाकिस्तान ने की थी। लतीफ ने यह भी कहा कि टीम में बहुत सारी कमियां हैं और मैनेजमेंट को उनको दूर करने पर ध्यान देना की जरूरत है, लेकिन उसका फोकस सिर्फ कप्तान बदलने पर है।

अपने यूट्यूब चैनल पर राशिद लतीफ ने कहा, ‘हाल ही भारतीय टीम ने 7 बैकअप कप्तान बना लिए। भारतीय क्रिकेट के इतिहास से में ऐसा पहली बार देख रहा हूं। एक साल में विराट कोहली, केएल राहुल, रोहित शर्मा, शिखर धवन, ऋषभ पंत, हार्दिक पंड्या और जसप्रीत बुमराह भारत का नेतृत्व कर चुके हैं। भारतीय टीम ठीक वही गलती दोहरा रही है, जो 1990 के दौर में पाकिस्तान ने की थी।’

बता दें कि पाकिस्तान की टीम ने 1990 से लेकर 2000 तक यानी दस साल में 7 कप्तानों को आजमाया था। उस दौरान वसीम अकरम, सलीम मलिक, रमीज राजा, सईद अनवर, आमिर सोहेल, राशिद लतीफ और मोईन खान ने पाकिस्तान क्रिकेट टीम की कमान संभाली थी। हालांकि, इतने कप्तान बदलने के बावजूद पाकिस्तान टीम कुछ खास कमाल नहीं कर पाई थी। इसके उलट टीम में मतभेद की खबरें अधिक आने लगी थीं।

राशिद लतीफ ने भारतीय टॉप और मिडिल ऑर्डर में भी स्थिरता की कमी बताई। लतीफ ने कहा, ‘अब तक भारतीय टीम एक परफेक्ट ओपनर नहीं खोज पाई है, न ही उनका मध्यक्रम स्थिर है। उन्हें बस हर सीरीज में नया कप्तान चाहिए। कोई एक कप्तान भी उनके लिए निरंतरता के साथ नही खेल रहा है। केएल राहुल फिट नहीं हैं, रोहित भी कुछ दिन पहले अनफिट थे।

राशिद लतीफ ने अपनी बात जारी रखते हुए कहा, ‘विराट कोहली मानसिक तौर पर अनफिट हैं। भारतीय टीम प्रबंधन को इस बारे में सोचने की ज्यादा जरूरत है। वे बहुत ज्यादा कप्तान बदल रहे हैं। उन्हें सौरव गांगुली, महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली जैसे कप्तानों की जरूरत है।’

About the author

suuny

Leave a Comment