Virat Kohli को अंदर तक चोट पहुंचा गया है रनों का अकाल, जॉस बटलर ने मांगी मदद तो छलका ‘दर्द’, ये दिन भी देखना बाकी था!

आखिरकार वो हुआ जिसका इंतजार पिछले काफी समय से लाखों फैंस को था. विराट कोहली आईपीएल 2022 में पहली बार रंग में नजर आए. गुजरात टाइटंस के खिलाफ विराट कोहली (Virat Kohli) ने गुजरात के खिलाफ 54 गेंदों में 73 रनों की पारी खेली और अपनी टीम को 8 विकेट से जीत दिलाई. विराट कोहली ने इस सीजन में महज दूसरा अर्धशतक लगाया है और दिलचस्प बात ये है कि उनकी पहली हाफसेंचुरी भी इसी टीम के खिलाफ थी. हालांकि उस पारी के स्ट्राइक रेट पर सवाल खड़े हुए थे. वैसे इस मैच से पहले विराट कोहली के साथ कुछ ऐसा घटा जिसे जानकर आपको मालूम होगा कि खराब फॉर्म ने किस तरह इस दिग्गज खिलाड़ी को अंदर तक झकझोरा है.

विराट कोहली ने गुजरात टाइटंस के खिलाफ मैच से पहले एक किस्सा फैंस के साथ साझा किया है. जिसमें विराट कोहली ने बताया कि राजस्थान के खिलाफ मैच के बाद उसके ओपनर जॉस बटलर उनसे बात करने आए थे. बटलर ने उनसे कुछ सवाल पूछा लेकिन विराट कोहली ने जो जवाब दिया वो सच में इस खिलाड़ी के दर्द को जाहिर करता है.

बटलर ने मांगी मदद तो ये क्या बोल गए विराट?

विराट कोहली ने स्टार स्पोर्ट्स से बातचीत में बताया कि राजस्थान के बल्लेबाज जॉस बटलर मैच के बाद उनसे कुछ पूछने आए थे. विराट कोहली ने कहा, ‘राजस्थान के खिलाफ मैच के बाद बटलर मुझसे कुछ पूछने आए थे. तो मैंने कहा कि तुमने ऑरेंज कैप पहनी हुई है. तुम मुझसे क्या पूछना चाहते हो. मैं रन नहीं बना पा रहा हूं. इसके बाद हम जोर-जोर से हंसने लगे.’ विराट कोहली और बटलर इस बात के बाद हंसने तो लगे लेकिन ये बात इस दिग्गज बल्लेबाज के अंदर के दर्द को जाहिर कर गई.

विराट कोहली रंग में आए

गुरुवार को खेले गए मुकाबले में बैंगलोर को गुजरात ने 169 रनों का लक्ष्य दिया था. जवाब में बैंगलोर को कप्तान डुप्लेसी और विराट कोहली ने शानदार शुरुआत दी. दोनों ने 115 रनों की साझेदारी कर जीत का बेस बनाया. इस दौरान विराट कोहली ने शानदार 73 रन बनाए. डुप्लेसी के बल्ले से 44 रनों की पारी निकली. इसके बाद मैक्सवेल ने 18 गेंदों में नाबाद 40 रन बनाकर बैंगलोर को अहम जीत दिला दी. हालांकि अब भी बैंगलोर प्लेऑफ में नहीं पहुंचा है. दिल्ली कैपिटल्स प्लेऑफ में जगह बनाने की बड़ी दावेदार है. अगर वो आखिरी लीग मैच में मुंबई को हरा देती है तो बैंगलोर का सफर समाप्त समझिए.

About the author

suuny

Leave a Comment