हम खिलाड़ी कार नहीं हैं, जो पेट्रोल डाला और दौड़ाने लगे, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के व्यस्त शेड्यूल पर बेन स्टोक्स ने साधा निशाना

इंग्लैंड के स्टार क्रिकेटर बेन स्टोक्स ने व्यस्त शेड्यूल को लेकर क्रिकेट प्रशासकों पर निशाना साधा है और कहा है कि उन्हें खिलाड़ियों के साथ ‘कार’ जैसा व्यवहार नहीं करना चाहिए। ऑलराउंडर ने डरहम में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले एकदिवसीय मैच के बाद संन्यास ले लिया। उन्होंने कहा कि उनके लिए तीनों प्रारूपों में खेलना बोझ जैसा हो गया था। इंग्लैंड पिछले कुछ महीनों में नॉन-स्टॉप क्रिकेट खेल रहा है। अकेले जुलाई में उसे 17 मैच खेलने हैं। इसके बाद उसे अगले महीने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है।

क्रिकेट के व्यस्त शेड्यूल को लेकर बेन स्टोक्स ने बीबीसी टेस्ट मैच स्पेशल से कहा, “मैं हमेशा टीम के लिए 100 प्रतिशत योगदान देना चाहता हूं। हम कार नहीं हैं, जो पेट्रोल भरकर दौड़ाने लगे। खेलने और यात्रा करना आसान नहीं होता। व्यस्त शेड्यूल का आप पर काफी प्रभाव पड़ता है। इस समय शेड्यूल जैम पैक्ड है और सभी खिलाड़ियों से उम्मीद होती है कि वो मैदान हर बार 100 फीसदी दें, लेकिन हर बार ऐसा संभव नहीं है।”

स्टोक्स ने आगे कहा, “टीमें अपनी स्कवायड देख रही हैं और सोच रही हैं कि वे खिलाड़ियों को कहां ब्रेक दे सकती हैं। आप बेहतर नतीजे के लिए अपने सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी को खेलते देखना चाहते हैं। अगर टीमों और संगठनों को लगता है कि खिलाड़ियों को एक प्रारूप में उनकी देखभाल के लिए एक ब्रेक की जरूरत है, तो मुझे नहीं लगता कि यह अच्छा है। मैं इसे ऐसे देखता हूं कि टेस्ट मैच साथ ही टीम उसी वक्त एक दिवसीय मैच भी खेल रही है। यह सोचकर अजीब लगता है। “

इंग्लैंड के विश्व कप जिताने में बेन स्टोक्स की महत्वपूर्ण भूमिका

बेन स्टोक्स के संन्यास के बाद इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने भी व्यस्त शेड्यूल को लेकर सवाल उठाया है। वहीं टीम इंडिया के पूर्व दिग्गज स्पिनर प्रज्ञान ओझा ने वनडे क्रिकेट के भविष्य पर सवाल उठाया है। 31 साल के क्रिकेटर को इंग्लैंड को साल 2019 में वनडे वर्ल्ड कप विजेता बनाने के लिए हमेशा याद रखा जाएगा।

इंग्लैंड टेस्ट टीम के कप्तान हैं बेन स्टोक्स

फिलहाल स्टोक्स इंग्लैंड टेस्ट टीम के कप्तान हैं और उनकी कप्तानी में टीम ने शानदार प्रदर्शन किया है। 2011 में आयरलैंड के खिलाफ अपना वनडे डेब्यू करने के बाद स्टोक्स ने तीन शतकों की मदद से 2924 रन बनाए और 74 विकेट लिए। उनकी कप्तानी में इंग्लैंड ने पिछले साल पाकिस्तान के खिलाफ रॉयल लंदन सीरीज 3-0 से अपने नाम किया था।

About the author

suuny

Leave a Comment