दर्द मिला तब ‘हीरो’ बना, आर अश्विन ने बताया- पत्नी और बेटी को आकर मुझे उठाना पड़ा था

रविचंद्रन अश्विन 2020-21 में ऑस्ट्रेलिया में भारतीय टीम की ऐतिहासिक सीरीज जीत के दौरान बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियो में शामिल थे। गेंद से उन्होंने अच्छा किया ही था पर सीरीज के दौरान उनका सबसे महत्वपूर्ण योगदान बल्ले से आया क्योंकि उन्होंने सिडनी में तीसरे टेस्ट मैच में भारत को ड्रॉ कराने के लिए हनुमा विहारी के साथ एक महत्वपूर्ण नाबाद साझेदारी की। अश्विन और विहारी दोनों पारी के दौरान चोट से जूझ रहे थे लेकिन टीम इंडिया उस मैच के दौरान हार टालनी के लिए कामयाब रही।

जीत पर एक नई वेब सीरीज रिलीज होने जा रही है

अब उस शानदार जीत पर एक नई वेब सीरीज रिलीज होने जा रही है। लॉन्च के दौरान अश्विन ने अपने और विहारी दोनों के संघर्षों के बारे में जानकारी दी।

उन्होंने कहा, ‘हम जैसे ही अंदर गए हम दोनों सहज हो गए। हमें एहसास हुआ कि हमें क्या समस्या है, वह (विहारी) आगे नहीं आ सके और बैकफुट पर जा रहे थे। वह हैमस्ट्रिंग की चोट से जूझ रहे थे। जब मैं क्रीज पर गया तो मैं तेज गेंदबाजों के खिलाफ आगे नहीं जा सका। तो उस स्थिति में, मैंने कहा कि हम रोटेट करेंगे और देखेंगे कि यह कैसे काम करेगा।’

हालत सही नहीं थी

उन्होंने कहा, ‘कभी-कभी वह तेज गेंदबाजों का सामना कर रहे थे और मैं स्पिनरों का सामना कर रहा था। और इसके साथ ही, हमने कुछ ओवरों तक बल्लेबाजी की। उनके और मेरे बीच ठोस बातचीत थी, हम एक-दूसरे की मदद कर रहे थे।’

हालांकि सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर हुए उस तीसरे टेस्ट में पीठ में चोट लगने के बाद अश्विन को गाबा टेस्ट से बाहर होना पड़ा। चोट के बावजूद अश्विन ने भारत के लिए खेल बचाने के लिए बल्ले से शानदार पारी खेली थी। वह तीन मैचों में 12 विकेट लेकर श्रृंखला में भारत के दूसरे सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज थे।

पत्नी और बच्चों ने मुझे खड़े होने में मदद की

अश्विन ने कहा, ‘यह मेरे लिए आश्चर्य की बात थी कि मैं दर्द निवारक के साथ गेंदबाजी करने गया था। और 13 या 14 ओवर फेंके। यह इतना बुरा था कि मैं दर्द के कारण फर्श पर लुढ़क रहा था। मेरी पत्नी और बच्चों ने मुझे खड़े होने में मदद की और फिर फिजियो मुझे चेक करने आए। मैं रेंगते हुए खेल में गया, लेकिन मैंने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया।’

टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को गाबा और ब्रिस्बेन में हराकर बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी 2-1 से अपने नाम कर ली।

About the author

suuny

Leave a Comment